Blueprint for Daily Prayer - Evening



जय श्री राम

साधक का परम साध्य (लक्ष्य) :- श्री राम की अखण्ड स्मृति (= नित्य एकत्व)

राम अपनी कृपा से मुझे भक्ति दे .
राम अपनी कृपा से मुझे शक्ति दे ..
नाम जपता रहूँ, काम करता रहूँ .
तन से सेवा करूँ, मन से संयम कर्रूँ ..

राम

निम्नलिखित (A) (B) करने के लिये,
और सब, समझ कर , दृष्टिकोण बदलने के लिये हैं ।

  • ध्यान (A)
  • आराध्य श्रीराम त्रिकुटी में, प्रियतम सीताराम हृदय में .. श्री राम जय राम जय जय राम . राम राम राम राम रोम रोम में ..
  • जप (B)
  • श्री राम जय राम जय जय राम . राम राम राम राम राम मुख में .. श्री राम जय राम जय जय राम . राम राम राम राम स्वांस स्वांस में ॥
  • समर्पण
  • श्री राम जय राम जय जय राम . राम राम राम राम जन जन में .. श्री राम जय राम जय जय राम . राम राम राम राम कण कण में ..
    तन है तेरा, मन है तेरा प्राण हैं तेरे, जीवन तेरा सब हैं तेरे, सब है तेरा
  • शरणागति
  • मैं हूं तेरा
  • प्रीति
  • तू है मेरा
  • अखण्ड स्मृति

सायं "शरणागति पथ" का पाठ, "साधना पथ" का पाठ